32 Bit और 64 Bit Processer में क्या अंतर है ?

32 Bit और 64 Bit Processer में क्या अंतर है


मोबाइल , लैपटॉप या कंप्यूटर सभी में सबसे  मुख्य काम प्रोसेसर का होता है | जिसके द्वारा ही तय होता है की आपका कंप्यूटर कितनी स्पीड से काम करेगा |

इसके अलावा प्रोसेसर के अनुसार ही यह तय हो पाता है की आपके कंप्यूटर में कोनसी विंडोज़ और कोनसा सॉफ्टवेयर काम करेगा |

अगर आपने कभी विंडो या कोई सॉफ्टवेयर डाउनलोड किया हो तो आपने देखा होगा की उसमे 2 ऑप्शन आते है 32 बिट और 64 बिट |



क्या आप जानते है कि ये 32 बिट और 64 बिट क्या होता है और इनमे क्या अंतर होता है |

अगर नहीं तो आपके लिए यह जानना जरुरी है की इससे आप अपने कंप्यूटर और लैपटॉप में सही विंडोज और सॉफ्टवेयर डाउनलोड कर पाएंगे जिससे आपका कंप्यूटर सही तरह काम करेगा |

तो आइये जानते है 32 बिट और 64 बिट के बारे में |

32 बिट और 64 बिट प्रोसेसर क्या है:


32 बिट प्रोसेसर वाले कंप्यूटर 32 बिट्स चोडी डाटा यूनिट पर काम करता है | और सन 2OOO  से पहले इसी प्रोसेसर का उपयोग प्रमुखता से किया जाता था |

इसी प्रोसेसर पर विंडो 95 और  98 और एक्सपी ऑपरेटिंग सिस्टम काम करते थे और सपोर्ट करते थे |

इसके बाद टेक्नोलॉजी में और सुधार हुआ और कंप्यूटर की काम करने की गति और तेज हो इसलिए 64 बिट वाले प्रोसेसर बाजार में आये |

इन पर काम करने के विंडोज के भी नए ऑपरेटिंग सिस्टम विस्टा, विस्टा 7 और विंडोज 8 आये |

क्युकी इसमें प्रोसेसर 64 बिट्स चौड़ी डाटा यूनिट पर काम करता है इसलिए इसकी काम करने की गति भी तेज होती है |

कौन कौन से सॉफ्टवेयर करते है सपोर्ट 32 बिट और 64 बिट में?
32 बिट प्रोसेसर पर काम करने के लिए विंडो  का भी 32 बिट वाला ऑपरेटिंग सिस्टम होना चाहिए |

साथ ही जो भी एप्लिकेशन हम काम में ले रहे है वे भी 32 बिट वाली ही होनी चाहिए |

तब ही आपकी विंडो और एप्लिकेशन काम कर पाएंगे |

अगर आपके कंप्यूटर में 64 बिट वाला प्रोसेसर है तो उस पर कोई भी 32 बिट वाला ऑपरेटिंग सिस्टम काम कर कर जायेगा लेकिंग प्रॉपर सही ढंग से काम करें इसके लिए ऑपरेटिंग सिस्टम भी 64 बिट वाला होना  चाहिए |

इसके अलावा कोई भी 32 बिट वाली एप्लिकेशन भी काम कर जाएगी लेकिन कभी कभार उसमे कोई दिक्कत आ सकती है

इसलिए  64 बिट वाली  एप्लिकेशन ही इंस्टॉल करें वो ही सही तरह से काम कर पायेगी |

32 बिट और 64 बिट प्रोसेसर में क्या अंतर है?


32 बिट वाले प्रोसेसर  सिंगल कोर वाले होते है जबकि 64 बिट वाले प्रोसेसर ड्यूल कोर, क्वेड कोर, सिक्स कोर और आठ कोर वर्जन को भी सपोर्ट करता है |

जो की एक ही समय पर मल्टीपल टास्क कर सकते है और कई गणना एक साथ कर सकते है और उनकी स्पीड भी 32 बिट के मुकाबले में अधिक होती है |

इसके अलावा 32 बिट और 64 बिट प्रोसेसर में एक बड़ा अंतर ये है की 32 बिट केवल 2 से लेकर 4 जीबी रेम को ही सपोर्ट कर सकता है जबकि 64 बिट वाले कंप्यूटर 4 जीबी से ऊपर रैम को भी आसानी से सपोर्ट करता है |

64 बिट वाले प्रोसेसर ग्राफिक डिजाइन सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग और वीडियो एडिटिंग के  सॉफ्टवेयर को भी सपोर्ट करता है और इस पर काम करना सुविधाजनक और आसान होता है |

और आज के समय में 64 बिट वाले प्रोसेसर का ही अधिकांशः उपयोग किया जा रहा है|

32 बिट और 64 बिट में कौन है बेहतर?


एक ही समय पर मल्टीपल टास्क कर सकते है और कई गणना एक साथ कर सकते है और उनकी स्पीड भी 32 बिट के मुकाबले में अधिक होती है |

इसके अलावा 32 बिट और 64 बिट प्रोसेसर में एक बड़ा अंतर ये है की 32 बिट केवल 2 से लेकर 4 जीबी रेम को ही सपोर्ट कर सकता है|

जबकि 64 बिट वाले कंप्यूटर 4 जीबी से ऊपर रैम को भी आसानी से सपोर्ट करता है |

64 बिट वाले प्रोसेसर ग्राफिक डिजाइन सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग और वीडियो एडिटिंग के  सॉफ्टवेयर को भी सपोर्ट करता है और इस पर काम करना सुविधाजनक और आसान होता है |

और आज के समय में 64 बिट वाले प्रोसेसर का ही अधिकांशः उपयोग किया जा रहा है|
Previous
Next Post »